Darkhaast Lyrics | Shivaay | In Hindi | Ajay Devgan

9:52:00 AM Rahul Gawale 0 Comments


इस कदर तू मुझे प्यार कर,
जिसे कभी न मैं सकोन फिर भुला
ज़िन्दगी लायी हमे यहाँ
कोई इरादा तो रहा होगा भला

की दरखास्त है ये, जो आयी  रात है ये
तू मेरी बाहों में दुनिया भुलादे।
जो अब लम्हात है ये, बड़े ही खास है ये,
तू मेरी बाहों में दुनिया भुलादे।

राहों में मेरे साथ चल तू,
थामे मेरा हाथ चल तू,

वक्त जितना भी हो हासिल
सारा मेरे नाम कर तू
वक्त जितना भी हो हासिल
सारा मेरे नाम कर तू

के अरमान है ये , गुजारिश जान है ये,
तू मेरी बाहों में दुनिया भुलादे।


जो अब लम्हात है ये
जो अब लम्हात है ये
बड़े ही खास है ये
बड़े ही खास है ये

तू मेरी बाहों में दुनिया भुलादे।
लब्ज़ जिस्मो पे ऐसे सजाए
बारिशो से भी वो धूल न पाए
तू मेरी बाहों में दुनिया भुलादे।

हो नक्श लम्हो पे ऐसे बनाये
मुद्दतों से भी वो मिट न पाए
तू मेरी बाहों में दुनिया भुलादे।

तुझसे तो हूँ यूँ बहोत मुतास्सिर
पर क्या मरू मैं हूँ एक मुसाफिर
कसिए ख़ुशी है जिसमे नमी है
जाने तुन ये जाने ना ओ..

जो जज्बात है ये
जो जज्बात है ये
बड़े ही पाक है ये
बड़े ही पाक है ये

जो जज्बात है ये
जो जज्बात है ये
बड़े ही खास है ये
बड़े ही खास है ये
तू मेरी बाहों में दुनिया भुलादे।

तू मेरी बाहों में दुनिया भुलादे।
भुलादे भुलादे भुलादे ओ
तू मेरी बाहों में दुनिया भुलादे।
भुलादे भुलादे भुलादे ओ

की दरखास्त है ये, जो आयी  रात है ये
तू मेरी बाहों में दुनिया भुलादे।


Iss qadar tu mujhe pyaar kar
Jise kabhi na main sakoon phir bhula
Zindagi layi humein yahan
Koi iraada toh raha hoga bhala

Ki darkhaast hai yeh, Jo aayi raat hai yeh
Tu meri bahon mein duniya bhula de
Jo ab lamhaat hai yeh
Bade hi khaas hai yeh
Tu meri bahon mein duniya bhula de

Raahon mein mere sath chal tu
Thaame mera hath chal tu
Waqt jitna bhi ho haasil
Sara mere naam kar tu (x2)

Ke armaan hai yeh, Guzaarish jaan hai yeh
Tu meri baahon mein duniya bhula de

Jo ab lamhaat hai yeh
Jo ab lamhaat hai yeh
Bade hi khaas hai yeh
Bade hi khaas hai yeh

Tu meri baahon mein duniya bhula de
Lamz jismo pe aise sajaaye
Baarishon se bhi wo dhul na paaye
Tu meri baahon mein duniya bhula de

Ho naksh lamhon pe aise banaye
Muddaton se bhi woh mit na paaye
Tu meri baahon mein duniya bhula de

Tujhse toh hoon main yoon bahot mutassir
Par kya karu main hoon ek musafir
Kaisi khushi hai jisme nami hai
Jaane tu yeh ya jaane na oh..


Jo jazbaat hai yeh
Jo jazbaat hai yeh
Bade hi pak hai yeh
Bade hi pak hai yeh
Tu meri bahon mein duniya bhula de

Jo ab lamhaat hai yeh
Jo ab lamhaat hai yeh
Bade hi khaas hai yeh
Bade hi khaas hai yeh
Tu meri bahon mein duniya bhula de


Tu meri baahon mein duniya bhula de
Bhula de, bhula de, bhula de oh..
Tu meri baahon mein duniya bhula de
Bhula de, bhula de, bhula de

Ki darkhaast hai yeh, Jo aayi raat hai yeh
Tu meri baahon mein duniya bhula de

0 comments :