Teri Fariyaad Lyrics – Tum Bin 2

1:14:00 AM Rahul Gawale 0 Comments


डायलॉग ......
 जब रोना आये तो फूट के रो लो..
और प्यार ए तो गले लगालो,
प्यार में बस यही दो सच...
........

अब कोई आस न उम्मीद बची हो जैसे,
तेरी फरियाद मगर मुझ में दबी हो जैसे

जागते जागते एक उम्र कटी हो जैसे
जागते जागते एक उम्र कटी हो जैसे


डायलॉग ......
प्यार रिज़ेनबल नहीं होता, बस बेवजह होता है..
......

कोई फरियाद तेरे दिल में दबी हो जैसे,
कोई फरियाद तेरे दिल में दबी हो जैसे,
तूने आंखोसे कोई बात कही हो जैसे,
जागते जागते एक उम्र कटी हो जैसे ,
जागते जागते एक उम्र कटी हो जैसे,
जान बाकि है मगर साँस रुकी हो जैसे।

जनता हूँ आपको सहारे की जरूरत नहीं,
में  सिर्फ साथ देने आया हूँ..

ओह हो हो...
हर मुलाक़ात पे महसूस यही होता है...
हर मुलाक़ात पे महसूस यही होता है...
मुझसे कुछ तेरी नजर पूछ रही हो जैसे।


राहे चलते हुए अक्सर ये गुमाँ होता है...
राहे चलते हुए अक्सर ये गुमाँ होता है...
वो नजर छुप के मुझे देख रही हो जैसे।

एक लम्हे में सिम्त आया है सदियो का सफर..
एक लम्हे में सिम्त आया है सदियो का सफर..
ज़िन्दगी तेज बहुत तेज चल रही हो जैसे
ज़िन्दगी तेज बहुत तेज चल रही हो जैसे 
इस तरह पहरों तुज़े सोचता रहता हूँ में..
इस तरह पहरों तुज़े सोचता रहता हूँ में..
मेरी हर साँस तेरे नाम  लिखी हो जैसे
मेरी हर साँस तेरे नाम  लिखी हो जैसे

कोई फरियाद तेरे दिल में दबी हो जैसे,
तूने आंखोसे कोई बात कही हो जैसे,
जागते जागते एक उम्र कटी हो जैसे,
जान बाकि है मगर साँस रुकी हो जैसे।

0 comments :